शादी-दो दिलों का बंधन

 

शादी-दो दिलों का बंधन


 

 

       भारत में शादी को अटूट और पवित्र रिश्ता माना जाता है | यह न केवल दो अंजान लोगों को अटूट बंधन में बांध देता है पर दो अलग अलग परिवार आपस में जुड़ जाते है| भारतीय शादी की कुछ विधियां और रसमे होती है | यह रसमों के बारे में नीचे लिखा गया है

 

१ मंगनी: जब किसी लड़के लड़की का रिश्ता पक्का हो जाता है तो सबसे पहले उनकी मंगनी की जाती है. मंगनी यह दिखती है की वह दोनों एक दूसरे के लिए समर्पित हो गए है | इस विधि में लड़का लड़की एक दूसरे को सोने की अंगूठी पहनाते है | मंगनी की रसम दिखती है की रिश्ता पक्का हो गया है

 

 

 

२. संगीत और मेहंदी  : भारत में शादी एक बड़ा उत्सव माना जाता है | इसलिए शादी बहुत धूम धाम से मनाई जाती है|संगीत के फंक्शन पे सभी सेज सम्बन्दियों को बुलाया जाता है नाच गाने का कार्यक्रम होता है| इसके साथ साथ होने वाली दुल्हन को हाथों और पैरों पर मेहंदी लगती है | शादी के इस मौके पे सरे लोग खुशियां मनाते है |

३. हल्दी की रसम: माना जाता है की हल्दी लगने से इंसान का चेहरा निखरता है| इस लिए होने वाली दुल्हन और दूल्हे के घर में यह रसम होती है ताकि दोनों पर हल्दी लगे और दोनों ही अपनी शादी के दिन बहुत निखरे और ख़ूबसूरत लगे| यह रसम शादी के दिन शुभ को होती है|

४. सात फेरे: शादी के दिन पे लड़का दूल्हे के जोड़े में और लड़की दुल्हन के जोड़े में शादी के मंडप में आते है| मंडप में अग्नि को साक्षी मान कर दोनों ही सात फेरे लेते है| मंडप में दूल्हा दुल्हन की मांग में सिन्दूर भरता है एंड गले में मंगलसूत्र पहनाता है| इन सब विधियों के बाद दोनों पति पत्नी घोषित किये जाते है

५. बिदाई: शादी सम्पन होने के बाद लड़की के माता पिता लड़की की अपने घर से बिदाई करते है | क्योंकि शादी के बाद लड़की माँ बाप के घर नै पर पति के घर में या अपने ससुराल में रहती है | यह सबसे दुखी पल होता है क्योंकि लड़की और उसके सरे रिश्तेदार रोते है|

६. पग फेर : शादी के तुरंत दूसरे दिन पे नया शादीशुदा जोड़ा लड़की के माँ बाप के घर खाना खाने जाते है | लड़की के माता पिता नए जोड़े को तोफे देते है |

twitter account facebook account Google Plus account Pinterest account blogspot account
Copyright DesiEvite.com, 2015-2018, Contactus Email : DesiEviteAdmin@DesiEvite.com