Dua

इंतजार

Monday, April 10, 2017 | 9:55:00 PM

कोई ख्वाब बाकी है
न कोई
सफर बाकी है
डायरी
में जाने क्यूं
अब भी
कुछ याद बाकी है,

न वादा था किसी का
न कोई
मुलाकात बाकी है
दिल
में न जाने क्यूं
किसी
का इंतजार बाकी है !!

डॉ शेफालिका वर्मा

 

Posted By Dua

User Comments

Leave a comment/Review?

  • Your IP is being logged.
  • Your e-mail address is used only for verification purposes only and will not be sold, or shown publicly.
  • HTML tags allowed.